सुनील उइके के खिलाफ हो रही साजिश

जुन्नारदेव /   छिन्दवाड़ा  जिले की जुन्नारदेव विधानसभा से पूर्व में कांग्रेस के विधायक प्रत्याशी रहे सुनील उइके के खिलाफ जो गुटबाजी निकल कर सामने आ रही है , उसमे कही न कही राजनीतिक साजिश की बू आ रही है ।

बताया जाता है की कल तक जो लोग सुनील उइके को सर्वमान्य नेता मानते थे आज वही नेता सुनील के विरोध में सीना तान कर खड़े दिखाई दे रहे है ,जुन्नारदेव जनपद पंचायत के पूर्व अध्यक्ष राजेंद्र उइके जो कल तक सुनील के चेला हुआ करते थे आज बताया जाता है की यही राजेंद्र आज सुनील उइके के खिलाफ चिल्लर लोगों को एक करने में सबसे आगे बताये जाते है , बहर हाल राजेंद्र उइके जब जनपद अध्यक्ष थे तब इनका कार्यकाल भी कोई संतोषजनक नहीं रहा है यह कार्यकाल विवादों से भरा रहा है जानकार बताते है की राजेंद्र उइके जब जनपद अध्यक्ष थे तब इनका घर का झगड़ा कई बार जनपद की सामान्य सभा की बैठकों में इनकी पत्नी इनकी झकर उतार दिया करती थी ,इस प्रकरण ने राजेंद्र की राजनीती को विराम सा लगा दिया, परिणाम स्वरुप वे आज अध्यक्ष से सदस्य तक ही सीमित रह गए है

बताया जाता है की आज यही लोग सुनील की दावेदारी का विरोध करते हुए कहीं बैठकें तो कभी मंदिरों के दर्शन करते हुए कांग्रेस को जितने की पोस्ट शोसल मीडिया में पोस्ट कर रहे है ,ताकि इस बार ऐन केन प्रकारेण सुनील उइके का पत्ता साफ़ हो जाये अब देखना यह होगा की राजनीती में कभी जिले की युवा वर्ग एवं आदिवासी समुदाय का सिरमौर रहे सुनील जो सबको साधने में भी माहिर है,अब देखना होगा कि वो अपना समीकरण इस बार फिर से कैसे साधने में सफल हो पाते है, दिल्ली दरबार से जुड़े हुए सूत्र तो यही बताते है की सुनील को कमलनाथ ने तैयारी करने को कहा है ।

इसी क्रम में सुनील तेजी से और तेजिलाल से ज्यादा तैयारी कर रहे हैं भले ही कोई कुछ कहे मगर सुनील कम समय में ज्यादा उन्नति करने वालों में से एक हैं ।