तामिया के गामीण इलाका में उल्टी दस्त का केहर

तामिया मुख्यालय से 22 किलोमीटर दूर कॉमेडी खेड़ा ग्राम में उल्टी दस्त से पीड़ित ग्राम में पहुंची स्वास्थ्य विभाग की टीम के प्रभारी ब्लॉक मेडिकल अधिकारी विजय श्री ने बताया कि अभी कोई नई डेट नहीं हुई है नए कोई भी मरीज भी नहीं पैदा हुए हैं ग्राम में महामारी की स्थिति सामान्य है ए एन एम को निगरानी के लिए रखा गया है टीकाकरण कार्य भी आज किया गया उन्होंने बताया कि ग्राम में एक झरिया है जिसका दूषित पानी पीने से ही ग्राम में उल्टी दस्त महामारी फैली एवं 5 ग्रामीणों की मौत हुई हमने हमारे उच्च अधिकारियों को अपनी रिपोर्ट में पीएचई पीएचई विभाग से ग्राम की झरिया का पानी याद कराने की सलाह दी है वही पीएचई के एसडीओ वीके इसे ग्राम में हैंडपंप लगाने को कहा गया उन्होंने उन्होंने कहा कि बोर करने वाली गाड़ियां अभी निकली नहीं है जैसे ही गाड़ियां निकलती है हम उस ग्राम में बोर करवाकर हैंडपंप लगवा देंगे

इस संबंध में इनका कहना है कि गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के प्रदेश महासचिव सतीश नागवंशी ने कहा कि पीएचई के एसडीओ की नींद ग्राम में 5 मौतों के बाद भी नहीं जागी है आदिवासी होने के बाद भी आदिवासियों के मामले में ढुलमुल रवैया अपना रहे हैं समय सीमा में पेयजल की शुद्ध व्यवस्था ग्रामीणों को नहीं दे पा रहे हैं ऐसे अधिकारी को त्वरित पद से हटाया जाना चाहिए आजादी के 70 साल बाद भी पातालकोट क्षेत्र में शुद्ध पानी की व्यवस्था नहीं हो पाना कांग्रेस और बीजेपी दोनों दलों के लिए भी शर्म की बात है जो कहते हैं कि छिंदवाड़ा को हमने विश्व के नक्शे में बिठा दिया है तो क्या यही नक्शा है छिंदवाड़ा का कि जहां 5 आदिवासियों की मौत दूषित पानी पीने से हो जाती है

Leave a Reply

Your email address will not be published.